PD ( / )

कलम की स्याही से

अवर्णनीय शब्दों का समूह जब आकुलता से त्रस्त हो
फाटक के ओर अविराम टकटकी लगाए रखे
तब कलम की स्याही अचम्भित द्वार में दस्तक देती है
एकान्त में सहयात्री के रूप में आगमन करती है
सथ ही दीर्घायु में प्रेरणा स्रोत का पात्र बनती है।

User Rating: 5 / 5 ( 0 votes )

Comments (0)

There is no comment submitted by members.