• Ye Savan

    Badal barse savan me..

    Dharti odhe hari chadariya... more »

  • अनजानी राहें

    एक अनजान रह पर चल पड़े मुसाफिर
    चलना था, बस चलना ही था इस राह पर

    आगे क्या होने वाला है, ये पता नहीं था... more »

  • आँखे (Eyes)

    Haale dil ka ijhaar kar diya in nam ankhon ne
    हाले दिल का इजहार कर दिया इन नम आँखों ने

    Chhupana chaha raz wo chhupa na sake... more »

  • उसे सिर्फ अबला ना समझो

    उलाहना न दो उसे हर पल
    उसे भी दर्द होता है
    वो भी है सवेंदनशील मन लिए
    उसे भी दर्द होता है... more »

  • एक तुम ही तो हो कृष्ण

    चलपड़ेथे कई विचारों के मंथन संग,
    बहगए थे अनजानएक बहाव सेहम
    न आसमा दिख रहा न ज़मीं दिख रही थी
    न ही एहसास कोई न ही मन में कमी थी... more »

  • एक पंछी जो उड़ गया‏

    एक पंछी उड़ गया
    छोड़ा घर उसने धरती का आसमा पर घर बसा लिया
    जब वो पंछी बोला कराहकर.. जाना होगा अब मुझे इस धरती के जहाँ से..
    आज एक आश टूट गई.... more »

  • एक प्यारी सी बेटी

    हर एक लम्हा आये याद उस दिन का
    जब आई मेरी नन्ही परी

    सुन्दर नाजुक कोमल कोमल... more »

  • एकआश एक प्यास

    करूँ अरदास याकरू शिकायतसमझ न आयेयेमुझको

    समझनापाऊंलीलातेरीक्यों अड़चनदेतूजीवन को... more »

  • ओ रे मन

    ऐ मनतू ऐसे आंसू न बहा,
    न कर कोई गिला शिकवा
    यही हैं राहें जीवन की इसको
    तू अपनाते जा, खाली था... more »

  • ओ पथिक

    Hausale buland rakh aie pathik tu
    हौसले बुलंदरखऐपथिकतू
    Zamane kiin chingariyonme
    ज़मानेकी इनचिंगारियों में... more »

  • ओमेरेश्याम

    ओमेरेश्याम... more »

  • कुछ सपने सजा लें‏

    चलो न मितरा कुछ सपने सजा लें,
    हम तुम एक नया जहां बना लें।
    आ जाओ न मितवा कभी डगर हमारी,
    तुमसे बतियाकर अपना मन बहला लें।... more »

  • करते हैं रुख़सत

    करते हैं रुख़सत ज़माने से

    ज़नाज़े को कन्धा दे देना... more »

  • छोटी सी कश्ती

    ]न उलझ जाऊं इस जहाँ के आडम्बरों में जब हो कभी मन की चंचललता

    न कर बैठूं कोई अपराध जब मन की हो अधीरता... more »

  • जीवन की राहें...

    क्यूं होती पथरीली जीवन की राहें,
    क्यूं न मिलते कोमल फूल यहां।
    क्यूं होती खुशी के लम्हों के बाद,
    जलते से जीवन की राहें यहां।... more »

  • दर्द (Dard)

    दर्द ने बहुत दर्द दिया है हमको
    dard ne bahut dard diya hai hamko

    अपनों ने दर्द का अर्थ समझा दिया है हमको... more »

  • दिले नादां (Dile Nadan)

    तकते रहे राहें हम उम्र के हर मोड़ पर
    उम्मीद का छोड़ा न दामन क़यामत की दस्तक होने तक
    मुस्कान सजाये होठों पर हम जीते गए अंतिम आह तक
    सोचा कभी मिल जाय शायद कहीं खुशियों का आशियाँ हमें भी... more »

  • दीपावली का सन्देश

    दिन ढला हो गयी रात लो आई सुबह नई
    वक़्त सदा चलता ही रहता बिना कोई विश्राम लिए
    देखे कई नज़ारे भैया जीवन में इन आँखों ने
    दुःख सुख दोनों देखे स्नेहमयी इस वसुन्धरा पर... more »

  • धोखा

    धोखा कहूँ किस्मत का या कहूँ नसीबों की बातें

    इसे दिल चीर कर रख दिया तकदीर के धोखे ने... more »

  • नएसाल की ताल

    रहगए हैं अबकुछपलइस साल केअंतके
    होने वालीहै नईसुबह सपनो के संसार में
    दूर गगन तारों कीलड़ी, टिक टिककरतीये घडी
    सुना रहीधड़कनमानोअंतिमसांसोकेइससालकी... more »

  • पतंगपंछीऔर मकर संक्रांति

    आईखिचारहाई कही देश के एककोने मेंकहते लोग इसे खिचारहाई

    कहींकहते मकरसंक्रांति तो कहीं पतंगबाजी के लिएहोतीइसमें बेटियों की पहुनाई (मेहमान नवाज़ी)... more »

  • प्रकृति के सानिध्य से

    वो गुनगुनाती सी हवाएं
    दिल को बहलाते जाएँ

    करे हैं मन की अब... more »

  • 'फूलों से '‏

    कहीं तू सजता शादी के मंडप में
    कहीं तू रचता दुलहन की मेहंदी में
    कहीं सजता तू द्दुल्हे के सेहरे में
    कहीं बन जाता तू शुभकामनाओं का प्रतिक... more »

  • बिदाई

    सपन संजोये सुख के तेरे

    बिदाई की बेला आई है... more »

  • मैंआकाश का बादल

    कहीं दिखता अंगड़ाई लेता, कहीं दौड़ता हुआ-सा बादल
    कही अकिंचन-सा स्वरूप लिए खड़ा था, ध्यान मग्न साधू की तरह
    कहीं लगा, करे है क्रीड़ा एक बड़ा बादल, छोटे बादल संग
    कहीं ऊंचे पहाड़ों पर बिछौना बना, जैसे हो रुई कपास का रंग... more »